एआईएसएफ के राष्ट्रीय सम्मेलन की जोर-शोर से चल रही है तैयारी

76

ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन के कार्यकर्ता राष्ट्रीय सम्मेलन की तैयारी जोर-शोर से कर रहे हैं। इस मौके पर बेगूसराय में दिनकर विश्वविद्यालय की स्थापना की मांग को लेकर शिक्षा बचाओ रैली में भाग लेने के लिए आम छात्रों से लगातार संपर्क अभियान जारी है

भगवानपुर प्रखंड में एआईएसएफ अंचल परिषद की बैठक आयोजित की गई। इसकी अध्यक्षता जिला परिषद सदस्य सुरेंद्र कुमार ने की। बैठक में छात्रों को संबोधित करते हुए राज्य सचिव अमीन हमजा ने कहा कि बेगूसराय में दिनकर के नाम पर विश्वविद्यालय की मांग हमारा संगठन दशकों से कर रहा है। लेकिन सरकार के कानों तक जू नहीं रेंग रही है। यह लड़ाई आम छात्रों की लड़ाई है। इसलिए उन्हें इस महारैली में शामिल होकर अपनी चट्टानी एकता का परिचय देने की जरूरत है। दूसरी तरफ संसद में बिना बहस किए इस देश की शिक्षा को पूरी तरह से गर्त में धकेलने वाली नई शिक्षा नीति 2020 जबरदस्ती थोप दी गई, इसके खिलाफ भी आम छात्रों को लड़ने की जरूरत है।

जिलाध्यक्ष अमरेश कुमार ने कहा कि बेगूसराय के दो नमूने सांसद हैं, जिन्हें बेगूसराय के शिक्षा से कोई लेना-देना नहीं है। और उन दो नमूने के चट्टे-बट्टे छात्र संगठन ने कभी अपने सांसद से दिनकर विश्वविद्यालय की मांग नहीं की, यह दुर्भाग्य की बात है।

जिला सह सचिव सत्यम भारद्वाज ने कहा कि अभी देश के शिक्षा को बचाने के लिए ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन जैसे छात्र संगठनों की जरूरत है। आम छात्र इसी संगठन से जुड़कर अपनी हक की लड़ाई को बुलंद कर सकते हैं।

मालूम हो कि 28 सितंबर से लेकर 1 अक्टूबर तक होने वाले ऑल इंडिया स्टूडेंट्स फेडरेशन का राष्ट्रीय सम्मेलन बेगूसराय में करने का निर्णय लिया है। इस मौके पर पूरे देश के हर राज्य से प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे।

इस बैठक में धीरज कुमार, अभिषेक कुमार, नीतिश कुमार, गौतम कुमार,गुलशन कुमार,कृष्ण कुमार, शत्रुघन कुमार, संजीत कुमार, रोहित कुमार, सुजीत पंडित, संदीप कुमार, कारी कुमार, शक्ति कुमार, प्रिंस कुमार, नंदकिशोर कुमार, सुमित कुमार, बिट्टू कुमार, मनीष कुमार, शिवम कुमार, साकेत कुमार सहित सैकड़ो छात्र शामिल थे।

बेगूसराय से एस आर आज़मी की रिपोर्ट