हमें अपने आप को बचाने के लिए प्रकृति की आवश्यकता है : शुक्ला मिस्त्री

1144

बरौनी रिफ़ाइनरी के कर्मचारियों ने ली पर्यावरण संरक्षण की प्रतिज्ञा

कोरोना की दूसरी लहर से उबरते हुए बरौनी रिफाइनरी ने भी “पारिस्थितिक तंत्र के पुनरुत्थान” को धार देने के लिए विभिन्न गतिविधियों के जरिए विश्व पर्यावरण दिवस पर पर्यावरण संरक्षण की प्रतिज्ञा ली। रिफाइनरी प्रमुख सुश्री शुक्ला मिस्त्री ने कोरोना के नियमों और निर्देशों का अनुपालन करते हुए कर्मचारियों को पर्यावरण प्रतिज्ञा दिलाई।

उन्होंने सभी कर्मचारियों को प्रकृति के प्रति हमारी मजबूत और अटूट प्रतिबद्धता बनाए रखने पर  जोर दिया। उन्होंने कहा, ‘‘कोविड-19 महामारी ने पूरी मानवजाति को सचेत होने के संकेत दिए है। हमारा अस्तित्व प्रकृति की वजह से है। और हमें अपने आप को बचाने के लिए कुदरत की आवश्यकता है।

उन्होंने आगे कहा कि पिछले कई वर्षों से कार्बन उत्सर्जन और प्लास्टिक के बढ़ते उपयोग के कारण पारिस्थितिक तंत्र को काफी धक्का लगा है। इसिलए इंडियनऑयल एक जिम्मेदार कॉर्पोरेट होने के नाते पर्यावरण संरक्षण और सतत विकास पर खास कदम उठा रहा है।

आर के झा, मुख्य महाप्रबंधक (टीएस एवं एचएसई) ने अध्यक्ष, इंडियनऑयल के संदेश को साझा किया गया। इस अवसर पर बरौनी रिफ़ाइनरी की गृह पत्रिका, वातायान के विशेष अंक का विमोचन भी किया गया। यह अंक बरौनी रिफ़ाइनरी के पर्यावरण संरक्षण और सतत विकास के लिए किए जा रहे कार्यों को समर्पित है।

बरौनी रिफाइनरी की प्रबन्धक (कॉर्पोरेट संचार) अंकिता श्रीवास्तव के मुताबिक इस अवसर पर ए के तिवारी, मुख्य महाप्रबंधक (तकनीकी), अनिल कुमार, मुख्य महाप्रबंधक (परियोजना), टी के बिसई, मुख्य महाप्रबंधक (मानव संसाधन), महाप्रबंधकगण, बीटीएमयू और आईओओए के प्रतिनिधि मौजूद थे। इनके अलावा अन्य कर्मचारी लाइव टेलिकास्ट के जरिए ऑनलाइन जुड़े। सभी उपस्थित अधिकारियों ने इस अवसर पर टाउनशिप में वृक्षारोपण भी किया।

इससे पहले सप्ताह के दौरान, सभी कर्मचारियों के लिए ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी, परिजनों के लिए स्लोगन और टाउनशिप के बच्चों के लिए चित्रकला तथा निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।