राहुल गांधी के बढ़ते जनाधार से बीजेपी में बेचैनी और घबराहटः अमिता भूषण

225

श्रीमती भूषण ने आगे कहा कि मणिपुर की स्थिति दो माह बीत जाने के बावजूद जस की तस है। उन्होंने मणिपुर की मौजूदा स्थिति को विस्फोटक करार देते हुए गहरी चिंता व्यक्त की। और कहा कि मणिपुर की थोड़ी भी चिंता केंद्र सरकार को नहीं हैं।

बेगूसराय जिला की वरिष्ठ कांग्रेस नेता व पूर्व विधायक अमिता भूषण ने राहुल गांधी से संबंधित गुजरात हाई कोर्ट के फैसले पर अपनी त्वरित प्रतिक्रिया दी है। बेगूसराय की पूर्व विधायक अमिता भूषण ने कहा है कि भारत जोड़ो अभियान की सफलता और आम जनमानस में राहुल गांधी की बढ़ती लोकप्रियता को देखकर बीजेपी एवं केंद्रीय सरकार घबरा गई है। इसीलिए केंद्र सरकार राहुल गांधी के बढ़ते कद को रोकने के लिए तरह-तरह के हथकंडे अपना रही है। उन्होंने आगे कहा कि कर्नाटक और हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस पार्टी की शानदार जीत से राहुल गांधी ने नेतृत्व की अपनी क्षमता का सबको एहसास कराया है। यही वजह है कि एनडीए के नेता उनके खिलाफ साजिश रचने में दिन-रात एक किए हुए हैं। उन्होंने इस चलन को लोकतंत्र के लिए घातक बताया। और मणिपुर के संकट के लिए भी केंद्र सरकार को आड़े हाथ लिया। श्रीमती भूषण ने आगे कहा कि मणिपुर की स्थिति दो माह बीत जाने के बावजूद जस की तस है। उन्होंने मणिपुर की मौजूदा स्थिति को विस्फोटक करार देते हुए गहरी चिंता व्यक्त की। और कहा कि मणिपुर की थोड़ी भी चिंता केंद्र सरकार को नहीं हैं। उन्होंने महंगाई के लिए भी केंद्र सरकार को दोषी ठहराते हुए आड़े हाथ लिया। उन्होंने केंद्र सरकार की रोजगार नीति पर भी सवालिया निशान लगाया। और कहा कि देश में बढ़ती महंगाई और बेरोजगारी से देश की जनता तबाह है। लेकिन सरकार का ध्यान असली मुद्दों और मसलों पर अब तक नहीं है।

दूसरा मत. कॉम के लिए बेगूसराय से एस आर आज़मी की रिपोर्ट