उत्तरप्रदेश: तरकश में तीर

308

बिहार में बीजेपी-जेडीयू साथ है। लेकिन सीमा पर मौजूद सूबा उत्तरप्रदेश में साथ रहना दोनों को गवारा न हुआ। बीजेपी ने जेडीयू को भाव नहीं दिया या जेडीयू ने बीजेपी से तालमेल के गणित की गोटी को बैठाना मुनासिब नहीं समझा। बहरहाल जो कुछ भी हुआ हो नीतीश का तीर उतरप्रदेश में तरकश से बाहर नहीं निकल पाया। अब नीतीश कुमार को कमल के मुरझाने का इंतज़ार है। देखना है कि नीतीश की इस इच्छा को उतरप्रदेश की जनता पूरा कर देती है तो बिहार में जेडीयू का तीर तरकश से निकलकर कमल पर हमलावर होता है कि नहीं।

रुफी शमा